अमरनाथ श्राईन बोर्ड ज़मीन

коли под наеनाथ श्राईन बोर्ड ज़मीन जब एक बार पी डी पी ने सर्व सहमति से दे दी थी, तो उसे वापिस ले लेना कहाँ का इन्साफ़ है? यह तो यूं हुआ कि किसी की झोली में दान डालकर वापिस ले लेना |इस सारे खेल के पीछे क्या साजिश चल रही है, यह तो आनेवाला समय ही बताएगा |हमारी तो ईश्वर से प्रार्थना है कि यह झगड़े का माहौल बस अब समाप्त हो |पौज़िटिव सौल्यूशन निकले |सरकार कोई ठोस कदम उठाए |

Be Sociable, Share!

Leave a Reply